लक्षण घटने के तुरंत बाद फिर से घेर सकता है कोरोना संक्रमण, नई स्टडी में खुलासा

अमेरिका में हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के ब्रिघम एंड विमेन हॉस्पिटल के रिंकी देव और मनीष चौधरी की अगुआई में 568 लोगों पर हुई स्टडी। इस स्टडी के दौरान 568 लोगों की नाक से कोरोना जांच के लिए सैंपल लेकर जांच की गई थी।

लक्षण घटने के तुरंत बाद फिर से घेर सकता है कोरोना संक्रमण, नई स्टडी में खुलासा
Photo by GR Stocks / Unsplash

भारतीय मूल के वैज्ञानिकों के नेतृत्व में किए गए एक अध्ययन से पता चला है कि कोरोना के लक्षण अगर खत्म हो जाएं या कम होने लगें तो इसे बीमारी से छुटकारे के तौर पर नहीं देखना चाहिए। ये लक्षण कुछ ही दिनों में फिर से वापसी कर सकते हैं।

अमेरिका में हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के ब्रिघम एंड विमेन हॉस्पिटल के रिंकी देव और मनीष चौधरी की अगुआई में 568 लोगों पर हुई स्टडी। 

अध्ययन में कहा गया है कि फाइजर कंपनी की एंटी वायरल दवा पैक्सलोविड लेने वालों में तो वायरल आरएनए और लक्षण फिर से दिख ही रहे हैं, इसके अलावा ये दवा न लेने वाला हर तीन में से एक शख्स भी वायरस का शिकार बन रहा है और उसमें कोरोना के लक्षण फिर से नजर आ रहे हैं। इस दवा के बारे में दावा किया जाता है कि ये कोरोना की वजह से गंभीर रूप से बीमार होने का खतरा 90 प्रतिशत तक कम कर देती है।