तकनीकी भूमिकाओं के लिए प्रवासियों की तलाश में जुटी भारतीय कंपनियां

दरअसल, करियर के नजरिए से लौटने वाले भारतीय भारत में कई अवसर देखते हैं। भारत एक ऐसा केंद्र है, जहां इस समय भारी मात्रा में निवेश हो रहा है। यहां विकास के नए क्षेत्र बन रहे हैं और कारोबार करने के नए तरीके ईजाद किए जा रहे हैं।

तकनीकी भूमिकाओं के लिए प्रवासियों की तलाश में जुटी भारतीय कंपनियां
Photo by Clem Onojeghuo / Unsplash

निर्माण, उद्योग, धातु व खनन और ऑटोमोटिव समेत अन्य क्षेत्रों की कई शीर्ष भारतीय कंपनियां तेजी से आगे बढ़ रही हैं और डिजिटलीकरण, विकास के नए क्षेत्रों पर फोकस कर रही हैं। ये कंपनियां भारत में विशेष तकनीकी प्रतिभा की कमी के बीच तकनीकी विशेषज्ञता की जरूरतों को पूरा करने के लिए अनूठा कदम उठा रही हैं। वे विदेश से लौटने वाले भारतीयों या अमेरिका और यूरोप के अप्रवासियों को अपने यहां काम पर रखने की कवायद में जुट गई हैं।

Hackathon
कई कंपनियां ऐसे पेशेवरों को भी काम पर रख रही हैं जिनके पास अंतरराष्ट्रीय स्तर का पर्याप्त अनुभव है। Photo by Alex Kotliarskyi / Unsplash

अमेरिका में रहने वाले कई भारतीय अब वापस भारत लौटने का रुख प्रदर्शित कर रहे हैं। इनमें ऐसे लोग भी शामिल हैं जो लगभग दो दशक से वहां रह रहे हैं। ये लोग भारत आकर यहां की स्थानीय कंपनियों में बड़ी जिम्मेदारियां संभालना चाहते हैं। दूर से काम करने का विकल्प भी कंपनियों को ऐसे अप्रवासियों को तकनीकी विशेषज्ञ के तौर पर काम पर रखने की अनुमति देता है।