भारत का यमन को गेहूं निर्यात करना एक सराहनीय कदम: UN

भारत ने इस बात पर भी जोर दिया है कि खाद्य सुरक्षा को देखते हुए यमन के हुदैदा बंदरगाह का नागरिक इस्तेमाल सुनिश्चित किया जाना आवश्यक है। यह बंदरगाह यमन में खाद्य पदार्थों और अन्य जरूरी वस्तुओं को लाने का मुख्य रास्ता है।

भारत का यमन को गेहूं निर्यात करना एक सराहनीय कदम: UN
Photo by Polina Rytova / Unsplash

संयुक्त राष्ट्र (UN) के डिप्टी रिलीफ चीफ ने कहा है कि भारत से होने वाला वाणिज्यिक गेहूं का निर्यात रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध के बीच यमन (Yemen) के लिए आपूर्ति का एक प्रमुख जरिया बनकर उभरा है।

Sunset Harvest
भारत ने पिछले तीन महीने में यमन को दो लाख 50 हजार टन से अधिक गेहूं का निर्यात किया है। Photo by Noah Buscher / Unsplash

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) की बैठक में भारतीय विदेश मंत्रालय के संयुक्त सचिव प्रकाश गुप्ता ने यमन पर कहा कि वैश्विक बाजारों में आपूर्ति में आए बदलाव और खाद्य सुरक्षा पर उसका असर कम करने के लिए भारत जरूरतमंद देशों को हर संभव सहायता उपलब्ध करा रहा है।