CIA में मूलचंदानी को पहले CTO के रूप में कई एजेंडों पर करना होगा कार्य

अपनी नियुक्ति के बारे में बोलते हुए मूलचंदानी ने कहा कि मैं इस भूमिका में सीआईए में शामिल होने के लिए सम्मानित महसूस कर रहा हूं और एजेंसी के प्रौद्योगिकीविदों और डोमेन विशेषज्ञों की अविश्वसनीय टीम के साथ काम करने के लिए तत्पर हूं ।

CIA में मूलचंदानी को पहले CTO के रूप में कई एजेंडों पर करना होगा कार्य

भारत की राजधानी दिल्ली के एक छोटे से स्कूल में पढ़कर बड़े हुए भारतीय मूल के नंद मूलचंदानी को अमेरिका की केंद्रीय खुफिया एजेंसी (CIA) का पहला चीफ टेक्निकल ऑफिसर (CTO) नियुक्त किया गया है। इस प्रतिष्ठित पद की घोषणा CIA के निदेशक विलियम जे बर्न्स ने एक ब्लॉग पोस्ट में की थी और बाद में इसे सोशल मीडिया पर भी साझा किया।

CIA के बयान के अनुसार मूलचंदानी को सिलिकॉन वैली के साथ-साथ डिपार्टमेंट ऑफ डिफेंस (DoD) में काम करने का 25 से अधिक वर्षों का अनुभव है। CIA के निदेशक विलियम ने कहा कि मैंने अपनी नियुक्ति के बाद से प्रौद्योगिकी पर ध्यान केंद्रित करने को प्राथमिकता दी है और नया चीफ टेक्निकल ऑफिसर (CTO) का पद उस प्रयास का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा है। मुझे खुशी है कि नंद मूलचंदानी हमारी टीम में शामिल हुए हैं और इस महत्वपूर्ण नई भूमिका में अपने व्यापक अनुभव को लेकर आएंगे।

चीफ टेक्निकल ऑफिसर (CTO) के रूप में अपनी भूमिका में मूलचंदानी यह सुनिश्चित करेंगे कि एजेंसी अत्याधुनिक नवाचारों का लाभ उठा रही है। इसके अलावा चीफ टेक्निकल ऑफिसर (CTO) के रूप में मूलचंदानी CIA मिशन को आगे बढ़ाने के लिए कल के नवाचारों को क्षितिज पर ले जाना भी उनके एजेंडे में होगा।

बता दें कि कॉर्नेल से कंप्यूटर विज्ञान और गणित में डिग्री के बाद मूलचंदानी ने स्टैनफोर्ड से प्रबंधन में मास्टर ऑफ साइंस की डिग्री के साथ-साथ हार्वर्ड से लोक प्रशासन में मास्टर डिग्री हासिल की है। CIA में अपनी नई भूमिका से पहले मूलचंदानी ने CTO और DoD के संयुक्त आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सेंटर के कार्यवाहक निदेशक के रूप में कार्य किया। मूलचंदानी कई सफल स्टार्टअप के सीईओ के रूप में को-फाउंडर रहे हैं और सेवा भी दी हैं।

मूलचंदानी ने 1979-1987 के बीच दिल्ली के ब्लूबेल्स स्कूल इंटरनेशनल में अध्ययन किया। अपनी नियुक्ति के बारे में बोलते हुए मूलचंदानी ने कहा कि मैं इस भूमिका में सीआईए में शामिल होने के लिए सम्मानित महसूस कर रहा हूं और एजेंसी के प्रौद्योगिकीविदों और डोमेन विशेषज्ञों की अविश्वसनीय टीम के साथ काम करने के लिए तत्पर हूं जो पहले से ही एक व्यापक प्रौद्योगिकी रणनीति बनाने में मदद करने के लिए विश्व स्तरीय खुफिया और क्षमताएं प्रदान करते हैं।