इस हवाई अड्डे ने ऐसी भरी ‘उड़ान’, दुनिया के 10 शीर्ष देशों में पा लिया स्थान

चेन्नई एयरपोर्ट के निदेशक शरद कुमार ने बताया कि हवाई अड्डे की प्रक्रियाओं में लोगों की भागीदारी और सहयोगात्मक निर्णय लेने से हमें यात्रियों और उद्योग का विश्वास हासिल करने में मदद मिली है। हवाई यात्रा एक बार फिर यात्रियों का भरोसा हासिल कर रही है।

इस हवाई अड्डे ने ऐसी भरी ‘उड़ान’, दुनिया के 10 शीर्ष देशों में पा लिया स्थान
Photo by David Gladson / Unsplash

भारत के दक्षिण राज्य चेन्नई का अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा विश्व के व्यस्ततम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों में से एक है। वहां पर 70 मार्गों के लिए समय पर प्रस्थान का प्रतिशत 89.32% है। तमाम खूबियों को देखते हुए चेन्नई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे को वर्ष 2021 के लिए वैश्विक स्तर पर बड़े अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों में आठवें स्थान पर रखा गया है।

नामी संगठन सीरियम (Cirium) द्वारा विश्व स्तर पर किए गए विश्लेषण में यह एकमात्र भारतीय हवाई अड्डा है जिसे शीर्ष 10 में स्थान दिया गया है। 10वें स्थान में जगह बनाने वालों में जापान और यूरोप के एयरपोर्ट भी शामिल है। बता दें कि चेन्नई एयरपोर्ट पर यात्रियों के लिए तमाम तरह की सुविधाओं का इंतजाम किया गया है। यहां पर यात्री विभिन्न प्रकार के व्यंजनों का आनंद ले सकते हैं और इसके भीतर खरीदारी भी कर सकते हैं।

यह रिपोर्ट ऐसे समय में आई है जब कोरोना महामारी के इस दौर में विमानन उद्योग संजीवनी के तलाश में है। देश के तमाम हवाई अड्डे पर नागरिक सुविधाओं को विस्तार दिया जा रहा है। ऐसे में चेन्नई हवाई अड्डे को लेकर जो रिपोर्ट सामने आई है उससे घरेलू उड़ानों को लेकर 80 फीसदी बेहतरी की उम्मीद की जा रही है। इसके साथ ही अनुमान लगाया जा रहा है कि हवाई यात्रा फिर उसी स्तर पर पहुंच सकती है जैसे कोरोना महामारी के आने से पहले थी।