बांग्लादेश में घायल छात्र को भारत सरकार ने किया एयरलिफ्ट, एम्स में भर्ती

छात्र अभी कोमा में है और एम्स में उसके विशेष इलाज की व्यवस्था की गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद बांग्लादेश में भारत के उच्चायुक्त को फोन किया है और छात्र के परिवार को सभी जरूरी मदद उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। पीएमओ के दखल के बाद छात्र को ढाका से एयर एंबुलेंस के जरिए दिल्ली लाया गया।

बांग्लादेश में घायल छात्र को भारत सरकार ने किया एयरलिफ्ट, एम्स में भर्ती

बांग्लादेश में एक दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हुए जम्मू-कश्मीर के एक छात्र को भारत सरकार ने एयर एंबुलेंस के जरिए एयरलिफ्ट किया है। सोमवार को उस छात्र को राजधानी नई दिल्ली में स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में भर्ती कराया दिया गया।

भारतीय जनता पार्टी (BJP) की जम्मू-कश्मीर इकाई के प्रमुख रविंदर रैना ने यह जानकारी देते हुए बताया कि छात्र का नाम शुएब लोन है। वह केंद्र शासित प्रदेश के राजौरी जिले का रहने वाला है और बांग्लादेश की राजधानी ढाका में स्थित बरिंद मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस के अंतिम वर्ष का छात्र है। कॉलेज के तीन छात्र तीन जून को एक हादसे का शिकार हो गए थे। इसमें एक छात्र की मौत हो गई जबकि लोन समेत दो अन्य जख्मी हुए थे। इसे लेकर रैना राजौरी पहुंचे थे और लोन के पिता मोहम्मद अस्काम लोन से मुलाकात की थी।

रैना ने कहा कि मुझे जैसे ही इस घटना का पता चला मैंने प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) से सहायता मांगी। छात्र अभी कोमा में है और एम्स में उसके विशेष इलाज की व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि पीएमओ के दखल के बाद छात्र को ढाका से एयर एंबुलेंस के जरिए दिल्ली लाया गया।

भाजपा नेता ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद बांग्लादेश में भारत के उच्चायुक्त को फोन किया है और छात्र के परिवार को सभी जरूरी मदद उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। उच्चायुक्त ढाका के एवर केयर अस्पताल में घायल छात्र का हाल लेने पहुंचे थे और उसके परिवार से संपर्क किया था।

उधर शुएब के पिता अस्काम लोन ने बताया कि हमने किसी तरह से 10 लाख रुपये की व्यवस्था की थी। यह रकम लोगों से चंदा लेकर जुटाई गई थी लेकिन सारा पैसा बेटे के इलाज में खर्च हो गया। केंद्र शासित प्रदेश की सरकार में चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी लोन ने सरकार से मदद की मांग की है।