ऐसा क्या लिख दिया सांसद रो खन्ना ने, उनकी किताब की क्यों हो रही इतनी चर्चा

कैलिफोर्निया से तीन बार सांसद रहे खन्ना के अनुसार उन्होंने यह किताब इस परिकल्पना के आधार पर लिखी है कि किस तरह डिजिटल अर्थव्यवस्था लोगों को एक जगह से दूसरी जगह पर भेजने के बजाय वहीं असवर उत्पन्न कर सकती है जहां वह रहते हैं।

ऐसा क्या लिख दिया सांसद रो खन्ना ने, उनकी किताब की क्यों हो रही इतनी चर्चा

भारतीय मूल के अमेरिकी सांसद रो खन्ना की डिजिटल युग पर लिखी किताब इस समय खूब चर्चा में है। इस किताब में मानवता और पृथ्वी की बड़े स्तर पर बेहतरी के लिए डिजिटल क्रांति को लोकतांत्रिक रूप देने पर बात की गई है। इस किताब को शीर्ष अमेरिकी राजनीतिज्ञों के साथ-साथ वैश्विक अर्थशास्त्रियों से अहम और उल्लेखनीय प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं। इस किताब का नाम 'डिग्निटी इन अ डिजिटल एज: मेकिंग टेक वर्क्स फॉर ऑल ऑफ अस' (Dignity in a Digital Age: Making Tech Works for All of Us) है।

नोबेल पुरस्कार विजेता प्रख्यात अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन का कहना है कि खन्ना की यह किताब न्याय और निष्पक्षता के साथ जीवन जीने के असमान तरीकों के सह-अस्तित्व की एक सुंदर तस्वीर पेश करती है। वह खन्ना को एक नवोन्मेषी सामाजिक विचारक बताते हैं। इस महीने की शुरुआत में बाजार में आई यह किताब बेस्ट सेलर में शामिल हो चुकी है। इसके अलावा इसे प्रौद्योगिकी क्षेत्र के दिग्गजों से सराहना भी मिली है जिनमें माइक्रोसॉफ्ट के भारतीय मूल के सीईओ सत्या नडेला भी शामिल हैं। नडेला कहते हैं कि हम अमेरिका या किसी अन्य स्थान के भविष्य के बारे में विचार करें, हमारे पास रो खन्ना का आभार जताने का कारण है।