खुफिया सलाहकार बोर्ड के लिए बाइडन ने भारतीय मूल के रिचर्ड वर्मा को नामित किया

पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने 2014 में उन्हें राजदूत के तौर पर भारत भेजा था। वह भारत के लिए अमेरिका के राजदूत बनने वाले पहले भारतीय-अमेरिकी हैं।

खुफिया सलाहकार बोर्ड के लिए बाइडन ने भारतीय मूल के रिचर्ड वर्मा को नामित किया

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने भारतीय-अमेरिकी रिचर्ड वर्मा को अपने खुफिया सलाहकार बोर्ड के लिए नामित किया है। व्हाइट हाउस का यह बोर्ड राष्ट्रपति को देश की खुफिया एजेंसियों की प्रभावशीलता पर सलाह देता है। रिचर्ड वर्मा भारत के लिए अमेरिका के राजदूत भी रह चुके हैं।

वर्मा वर्तमान में मास्टरकार्ड के साथ इसके जनरल काउंसिल और ग्लोबल पब्लिक पॉलिसी के प्रमुख के रूप काम कर रहे हैं। पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने 2014 में उन्हें राजदूत के तौर पर भारत भेजा था। वह भारत के लिए अमेरिका के राजदूत बनने वाले पहले भारतीय-अमेरिकी हैं।

इसके अलावा वह विदेश विभाग में सहायक सचिव और सीनेट के बहुमत के नेता के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के तौर पर भी सेवाएं दे चुके हैं। जो बाइडेन के 2020 के राष्ट्रपति अभियान में वर्मा सक्रिय सदस्य थे। उन्होंने अभियान को भारतीय-अमेरिकी समुदाय तक पहुंचाने का काम किया था।

बाइडेन ने सेवानिवृत्त एडमिरल जेम्स ए सैंडी विनफील्ड को अपने खुफिया सलाहकार बोर्ड के अध्यक्ष के तौर पर नामित किया है। इसके साथ ही वर्मा के अलावा होमलैंड सुरक्षा विभाग की पूर्व सचिव जेनेट नेपोलिटानो व गिलमैन जी लुई को इस बोर्ड में सदस्य के तौर पर नामित किया गया है।