भारतीय मूल के 4 छात्रों ने जीती अमेरिकी विज्ञान व इंजीनियरिंग प्रतियोगिता

न्यू मैक्सिको स्थित अल्बुकर्क के अकिलन शंकरन प्रतियोगिता के 11 साल के इतिहास में गणित परियोजना के साथ सैमुअली फाउंडेशन पुरस्कार जीतने वाले पहले छात्र हैं।

भारतीय मूल के 4 छात्रों ने जीती अमेरिकी विज्ञान व इंजीनियरिंग प्रतियोगिता

अमेरिका में मिडल स्कूल के छात्रों के लिए आयोजित प्रमुख विज्ञान और इंजीनियरिंग प्रतियोगिता- ब्रॉडकॉम मास्टर्स के पांच विजेताओं में इस साल चार भारतीय मूल के बच्चे भी शामिल हैं। इन विजेताओं में भारतीय मूल के 14 वर्षीय अकिलन शंकरन ने प्रतिष्ठित $25,000 सैमुअली फाउंडेशन पुरस्कार जीता है जो इस प्रतियोगिता का शीर्ष पुरस्कार है।

न्यू मैक्सिको स्थित अल्बुकर्क के अकिलन शंकरन प्रतियोगिता के 11 साल के इतिहास में गणित परियोजना के साथ सैमुअली फाउंडेशन पुरस्कार जीतने वाले पहले छात्र हैं। उन्होंने एक कंप्यूटर प्रोग्राम लिखा था जो "अत्यधिक विभाज्य संख्या" की गणना कर सकता है, जिसे कभी-कभी एंटीप्राइम नंबर भी कहा जाता है और जो 1,000 अंकों से अधिक लंबा होता है। शंकरन के अलावा जीतने वाले भारतीयों में कैमिलिया शर्मा, प्रिशा श्रॉफ और रायका चोपड़ा शामिल हैं।