भारतीय-अमेरिकी चैत्र थुम्माला को स्पेलर कोच बनने की उम्मीद

चैत्र को 93वें स्क्रिप्स नेशनल स्पेलिंग बी प्रतियोगिता की तरफ से 30,000 डॉलर (करीब 22 लाख रुपये) का पुरस्कार मिलेगा।

भारतीय-अमेरिकी चैत्र थुम्माला को स्पेलर कोच बनने की उम्मीद
चैत्र ने 'नेरोली ऑयल' शब्द का गलत उच्चारण किया, जिससे जैला को स्पेलिंग राउंड में जीतने का मौका मिला।

सैन फ्रांसिस्को की रहने वाली भारतीय-अमेरिकी चैत्र थुम्माला भले ही हाल ही में हुई स्क्रिप्स नेशनल स्पेलिंग बी प्रतियोगिता में टॉप स्थान हासिल नहीं कर पाईं, लेकिन इससे 12 वर्षीय थुम्माला की खुशी और सकारात्मकता कम नहीं हुई है। वे इस प्रतियोगिता में दूसरे स्थान पर रहीं।

पॉजिटिव और आशान्वित लग रही चैत्र ने एक स्पेशल वीडियो चैट में इंडियन स्टार को बताया, "मैं बहुत खुश और उत्साहित हूं क्योंकि पांच साल की उम्र से ही शीर्ष तीन में रहना हमेशा एक सपना रहा है।"

चैत्र ने कहा, "मैं अभी भी स्पेलिंग जारी रखूंगी, क्योंकि मैं केवल 6 क्लास में हूं। शायद मैं साइंस स्कूल शुरू करूंगी और अन्य छात्रों को प्रशिक्षित करूंगी।"

चैत्र को 93वें स्क्रिप्स नेशनल स्पेलिंग बी प्रतियोगिता की तरफ से 30,000 डॉलर (करीब 22 लाख रुपये) का पुरस्कार मिलेगा। उन्होंने कहा कि वह बड़ी होकर सर्जन बनना चाहती हैं।

चैत्र ने इंडियन स्टार से कहा, "मैं बड़ी होकर सर्जन बनना चाहती हूं... एक रीकंस्ट्रक्टिव सर्जन।"