भारत-यूएई उड़ान: प्रतिबंध हटने के बाद से यात्री यातायात में तेजी से सुधार

यात्रा प्रतिबंधों में ढील के बाद दोनों देशों के बीच यात्री यातायात में लगातार वृद्धि देखी जा रही है। डीसीएए अधिकारी ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि भारत के कई यात्री एक्सपो 2020 के दौरान दुबई आएंगे और एक्सपो से संबंधित कार्यक्रमों में भाग लेंगे।

भारत-यूएई उड़ान: प्रतिबंध हटने के बाद से यात्री यातायात में तेजी से सुधार

दुबई नागरिक उड्डयन प्राधिकरण (डीसीएए) ने कहा कि भारत और दुबई के बीच यात्री यातायात में यात्रा प्रतिबंध हटने के बाद से काफी सुधार हुआ है। बड़ी संख्या में लोग दुबई की यात्रा कर रहे हैं और लंबे समय बाद अपने प्रियजनों से मिल रहे हैं। इस बीच इंदौर-दुबई उड़ान शुरू की गई है जो भारत व यूएई संबंधों में नई शुरुआत का प्रतीक है। करीब 34 लाख प्रवासी भारतीय यूएई में रहते हैं।

इंदौर-दुबई उड़ान भारत-यूएई संबंधों में नई शुरुआत का प्रतीक है।

इस साल मार्च में भारत में कोविड -19 मामलों में अभूतपूर्व वृद्धि देखने के बाद भारत से आने वाले यात्रियों पर यात्रा प्रतिबंध लगा दिए गए थे।

इंदौर-दुबई उड़ान शुरुआत कार्यक्रम के अवसर पर डीसीएए में विमानन सुरक्षा और दुर्घटना जांच क्षेत्र के कार्यकारी निदेशक मोहम्मद अब्दुल्ला लेंगवी ने कहा कि जब से यूएई के अधिकारियों द्वारा यात्रा प्रोटोकॉल के नए सेट को जारी किया गया है, तब से दोनों देशों के बीच यात्री यातायात में लगातार वृद्धि देखी जा रही है।

मध्य प्रदेश के इंदौर से दुबई के लिए यात्री उड़ान शुरू करने के अवसर पर दोनों देशों के अधिकारी। 

संयुक्त अरब अमीरात (UAE) ने 13 अन्य देशों पर भी समान प्रतिबंध लगाए थे। हालांकि अगस्त की शुरुआत में कोविड-टीकाकरण वाले निवासियों के लिए प्रतिबंधों में ढील दी गई और इस हफ्ते की शुरुआत से पर्यटक और प्रवेश परमिट धारक दुबई में निर्बाध रूप से यात्रा कर रहे हैं।