'उड़ान' को लगेंगे और पंख, कोवैक्सिन को WHO से बस मिलने ही वाली है मान्यता

कोवैक्सिन टीके के लिए डब्ल्यूएचओ के सहायक महानिदेशक मैरिएन सिमाओ ने यह भी कहा कि संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी का इस टीके का आकलन काफी उन्नत था और अधिकारियों को सितंबर के मध्य तक एक निर्णय की उम्मीद थी। माना जा रहा है कि वह उम्मीद बस अब पूरी होने वाली है।

'उड़ान' को लगेंगे और पंख, कोवैक्सिन को WHO से बस मिलने ही वाली है मान्यता
Photo by Mufid Majnun / Unsplash

भारतीय नागरिक जो ओमान, यूएई एवं अन्य देशों के लिए उड़ान में सवार होने से असमर्थ हैं उन्हें जल्द ही यह सुविधा मिलने वाली है। दरअसल विभिन्न देश टीका लगाए हुए लोगों को अपने देश में आने की अनुमति दे रहे हैं वहीं भारत के कोरोना रोधी कोवैक्सिन (Covaxin) टीके को अभी तक विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) से मंजूरी नहीं मिली है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन इसी महीने कोवैक्सिन को मंजूरी दे सकती है। 

फिलहाल कोवैक्सिन टीका लगाने वाले लोग उन देशों में सफर नहीं कर सकते जहां टीका लगाए लोगों के लिए देश की सीमा खोल दी गई है। लेकिन जल्द ही डब्ल्यूएचओ कोवैक्सिन को मंजूरी देने जा रहा है।