भारतीय PM करते हैं उपहारों की नीलामी, इस बार विशेष तलवार भी है

ओलंपिक से वापस आने के बाद प्रधानमंत्री ने सभी प्रतिभागियों का स्वागत किया। इस मौके पर भवानी देवी ने अपनी तलवार उन्हें उपहार में दी थी। इस नीलामी से मिलने वाली राशि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में ‘नमामि गंगे कोष’ को दी जाएगी।

भारतीय PM करते हैं उपहारों की नीलामी, इस बार विशेष तलवार भी है

टोक्यो ओलंपिक्स के लिए क्वालीफाई करने वाली पहली भारतीय फेंसर भवानी देवी की तलवार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मिले उपहारों और स्मृति चिन्हों की ऑनलाइन नीलामी में रखी गई है। उन्होंने ओलंपिक का पहला मैच जीत कर इतिहास रचा था। हालांकि अगले मुकाबले में वे पदक की दौड़ से बाहर हो गई थीं।

इस तलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मिले उपहार और स्मृति चिन्हों के ई-ऑक्शन में शामिल किया गया है। Photo : Twitter : @IamBhavaniDevi

तमिलनाडु की भवानी देवी का पूरा नाम चडलवादा आनंद सुंदररमन भवानी देवी है। उन्होंने अपने खेल करियर की शुरुआत वर्ष 2003 में की थी। शुरुआत में उन्हें तलवारबाजी पसंद नहीं थी। इसके पीछे एक रोचक कहानी है। स्कूल के दिनों में आयोजित खेल प्रतियोगिता के लिए सभी क्लास से छह-छह बच्चों के नाम लिए जा रहे थे। वह भी खेलों में हिस्सा लेना चाह रही थी, लेकिन जब वह अपना नाम लिखवाने पहुंचीं तब तक सभी खेलों में बच्चों के नाम लिखा जा चुके थे। सिर्फ तलवारबाजी में किसी बच्चे ने नाम नहीं लिखवाया था। मजबूरी में भवानी ने तलवारबाजी के लिए नाम दिया और ट्रेनिंग लेनी शुरू कर दी। धीरे धीरे उन्हें इसमें रुचि आने लगी और उन्होंने इस खेल पर अपना ध्यान केंद्रित कर लिया।