भारत आने वाले हवाई यात्रियों के लिए अब सिर्फ कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट जरूरी

यदि आंशिक रूप से यानी वैक्सीन की एक डोज ले चुके लोग भारत आते हैं तो उन्हें हवाई अड्डे पर ही कोरोना की जांच करानी होगी। इसके बाद उन्हें हवाई अड्डे से बाहर जाने की अनुमति दी जाएगी( लेकिन वे सात दिनों के लिए होम क्वारंटीन रहेंगे और आठवें दिन दोबारा टेस्ट कराएंगे।

भारत आने वाले हवाई यात्रियों के लिए अब सिर्फ कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट जरूरी

भारत ने अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए एक संशोधित यात्रा परामर्श (एडवाइजरी) जारी किया है, जिसमें सभी के लिए निगेटिव आरटी-पीसीआर रिपोर्ट अनिवार्य कर दी गई है। इसके मुताबिक टेस्ट रिपोर्ट यात्रा से 72 घंटे पहले की होनी चाहिए। सभी यात्रियों को रिपोर्ट की पुष्टि करने के लिए घोषणापत्र भी देना होगा। यह दिशा-निर्देश 25 अक्टूबर से प्रभावी होंगे।

Boeing 787 Dreamliner
स्वास्थ्य मंत्रालय ने गाइडलाइन जारी करने के साथ ही उन देशों की सूची जारी की, जहां से आने वाले यात्रियों को जरुरी नियमों का पालन करना होगा।

देश में कोरोना संक्रमण के मामले धीरे-धीरे कम हो रहे हैं। हालांकि सरकार अब भी कोरोना वायरस की तीसरी लहर को लेकर पूरी तरह सतर्क है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने गाइडलाइन जारी करने के साथ ही उन देशों की की सूची जारी की जहां से आने वाले यात्रियों को जरूरी नियमों का पालन करना होगा। सूची में ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बांग्लादेश, बोत्सवाना, चीन, मॉरीशस, न्यूजीलैंड और जिम्बाम्बे शामिल हैं। इन देशों को खतरे वाले देशों की सूची में रखा गया है।