बेटे की रहस्यमय मौत के आठ साल बाद भी मां ने जारी रखा इंसाफ के लिए संघर्ष

प्रवीण की मृत्यु का कारण शुरू में हाइपोथर्मिया होना निर्धारित किया गया था लेकिन स्वतंत्र शव परीक्षण में पाया गया कि मौत का कारण वास्तव में सिर पर बल आघात था।

बेटे की रहस्यमय मौत के आठ साल बाद भी मां ने जारी रखा इंसाफ के लिए संघर्ष

एक पार्टी के बाद 12 फरवरी, 2014 को उसका बेटा रहस्यमय तरीके से गायब हो गया था और छह दिन बाद जंगल में मृत पाया गया था। उसके आठ साल बाद, शिकागो, इलिनोइस की एक मां ने न्याय के लिए बहादुरी से लड़ना जारी रखा है।

प्रवीण वरुघीस के लिए एक स्मृति सभा 11 फरवरी को कार्बोन्डेल, इलिनोइस जंगल में आयोजित किया गया था, जहां उनका पार्थिव शरीर 18 फरवरी, 2014 को मिला था। मृत्यु के समय उनकी उम्र 19 साल थी और वह दक्षिणी इलिनोइस विश्वविद्यालय में आपराधिक न्याय विषय के छात्र थे।