कनाडा सड़क हादसा: बेटे के शव का इंतजार कर रहा परिवार

करनपाल के पिता किसान हरजीत सिंह कहते हैं कि अगर पंजाब सरकार ने नौकरी दी होती तो वह कभी कनाडा नहीं जाता।

कनाडा सड़क हादसा: बेटे के शव का इंतजार कर रहा परिवार

कनाडा के राज्य टोरंटो में हाल में एक सड़क दुर्घटना में मारे गए पांच भारतीय छात्रों में एक करनपाल सिंह भी थे, जिनका परिवार पंजाब (भारत) में इस इंतजार में है कि उनके बेटे का शव उन्हें कब मिलेगा? परिवार पंजाब के बटाला जिले के अम्मो नंगल गांव में रहता है।

हरजीत सिंह ने कहा कि करनपाल ने ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद नौकरी पाने की कोशिश की लेकिन भारत में उसे नौकरी नहीं मिली।

करनपाल के पिता किसान हरजीत सिंह कहते हैं कि बैरिंग यूनियन क्रिश्चियन कॉलेज से स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने अपने बेटे को आगे की पढ़ाई के लिए कनाडा भेजने पर बहुत पैसा खर्च किया था। स्नातक स्तर की पढ़ाई के बाद करनपाल ने एक कनाडाई विश्वविद्यालय से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में एक साल का ऑनलाइन पाठ्यक्रम शुरू किया था। इस पाठ्यक्रम के लिए करनपाल पिछले साल 26 जनवरी को कनाडा के लिए रवाना हो गया था।