अमेरिका की इस कंपनी में मैन्यूफैक्चरिंग ऑफिसर बने तुषार कैंसर की दवा खोजेंगे

तुषार मिश्रा एक अनुभवी बॉयोफार्मासिटिकल एक्जीक्यूटिव रहे हैं, जिनके पास छोटे अणुओं, बड़े-अणुओं और एडीसी के साथ-साथ दुनिया भर में कमर्शियल सप्लाई की चेन बनाने और उसके विस्तार करने का भी एक ट्रैक रिकॉर्ड है। उन्होंने अपने करियर में पांच उत्पादों को लॉन्च किया है।

अमेरिका की इस कंपनी में मैन्यूफैक्चरिंग ऑफिसर बने तुषार कैंसर की दवा खोजेंगे

अमेरिका की बायोफार्मासिटिकल कंपनी मेरसाना थेरेप्यूटिक्स ने भारतीय मूल के तुषार मिश्रा को अपनी कंपनी में बतौर चीफ मैन्यूफैक्चरिंग ऑफिसर चुना है। यह कंपनी कैंसर को लक्षित करने वाले एंटीबॉडी-दवा दवाओं की खोज और उन्हें बनाने का काम करती है।

Variety of chemotherapy drugs in vials and an IV bottle.
तुषार मिश्रा जिस कंपनी में गए हैं, वह कैंसर को लक्षित करने वाले एंटीबॉडी दवाओं की खोज और उन्हें बनाने का काम करती है। Photo by National Cancer Institute / Unsplash

कंपनी ने मिश्रा को माइकल कॉफमैन की जगह चुना है। माइकल पांच साल से अधिक वक्त बिताने के बाद मेरसाना से सेवानिवृत्त हो रहे हैं। तुषार मिश्रा एक अनुभवी बॉयोफार्मासिटिकल एक्जीक्यूटिव रहे हैं, जिनके पास छोटे अणुओं, बड़े-अणुओं और एडीसी के साथ-साथ दुनिया भर में कमर्शियल सप्लाई की चेन बनाने और उसके विस्तार करने का भी एक ट्रैक रिकॉर्ड है। उन्होंने अपने करियर में पांच उत्पादों को लॉन्च किया है।