चुनाव: जब सिख समुदाय से मिलकर ऑस्ट्रेलियाई पीएम ने कहा, 'सत श्री अकाल'

मॉरीसन ने सिडनी में हिंदू समुदाय को संबोधित किया और संतों संग सेल्फी खिचाई। इस दौरान उन्होंने ऊं लिखा हुआ गमछा पहना हुआ था। वहीं, सिख समुदाय से मिलते ही उन्होंने सत श्री अकाल कहकर उन्हें संबोधित किया।

चुनाव: जब सिख समुदाय से मिलकर ऑस्ट्रेलियाई पीएम ने कहा, 'सत श्री अकाल'
मेल्बर्न में सिख समुदाय से मिले पीएम मॉरीसन। 

ऑस्ट्रेलिया में इसी महीने की 21 तारीख को संसदीय चुनाव होने वाले हैं। प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरीसन देश के सभी समुदायों को साधने में जुट गए हैं। इसी के तहत उन्होंने पिछले सप्ताह ऑस्ट्रेलिया के हिंदू और सिख समुदाय के कार्यक्रमों में शिरकत की। वह सबसे पहले मेल्बर्न के गुरुद्वारा श्री गुरु नानक दरबार पहुंचे, जहां उन्होंने लंगर के लिए रोटियां भी बेलीं।

'सत श्री अकाल' बोल किया अभिवादन

स्कॉट मॉरीसन ने शनिवार को  मेल्बर्न के श्री गुरुनानक दरबार में सिख समुदाय के साथ समय बिताया। इस दौरान वह बच्चे, जवान और बुजुर्ग सभी से आत्मीयता से मिलते नजर आए। बच्चे उनके लिए गुलाब का फूल भेंट करने के लिए लाए थे। उन्होंने सिख समुदायों को संबोधित किया और देश की तरक्की में किए गए अपने काम को गिनाया।

https://youtu.be/EVVuM2tiQPo

इस संबोधन की शुरुआत उन्होंने 'सत श्री अकाल' कहते हुए की, जिसे सुनकर सिख समुदाय के चेहरे पर मुस्कराहट छा गई। उन्होंने इससे जुड़ा एक वीडियो इंस्टाग्राम पर शेयर करते हुए लिखा, 'ऑस्ट्रेलिया धरती पर बहुसंस्कृति वाला एक मजबूत देश है। हम अपने बहुसंस्कृति वाले अद्भुत समुदाय का साथ दे रहे हैं ताकि यह उन सभी को एक सुरक्षित भविष्य दे सके जो ऑस्ट्रेलिया को अपना घर मानते हैं।' बता दें कि यह गुरुद्वारा मेल्बर्न के ला ट्रोब संसदीय क्षेत्र में आता है।

हिंदू सतों संग मॉरीसन की सेल्फी। 

हिंदू संतों संग सेल्फी लेते दिखे पीएम

पीएम मॉरीसन शनिवार को हिंदू काउंसिल ऑफ ऑस्ट्रेलिया के मीट एंड ग्रीट कार्यक्रम में हिस्सा लेने  पारामट्टा पहुंचे। पारामट्टा सिडनी के अंतर्गत आने वाला एक संसदीय क्षेत्र है। पारामट्टा में वह भारतीय समुदाय विशेषकर हिंदू समुदाय के लोगों से मिले और अपनी पार्टी के लिए समर्थन जुटाने की कोशिश की। मॉरीसन यहां अपनी पत्नी जेनी मॉरीसन के साथ पहुंचे थे।

मॉरीसन ने हिंदू समुदाय को जब संबोधित किया तो उनके गले में  'ऊं' लिखा हुआ गमछा था। कार्यक्रम के दौरान मॉरीसन और उनकी पत्नी ने खुशी-खुशी टिका भी लगवाया और संतों संग सेल्फी खिचाई। उन्होंने इंस्टाग्राम पर कार्यक्रम की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, 'पारामट्टा में दिन का समापन हिंदू धर्मावलंबियों और हिंदू समुदाय के नेताओं से मुलाकात के साथ पूरा करना अद्भुत रहा। खुशी की बात है कि इस दौरान जेन भी मेरे साथ रहीं।'

इस दौरान उन्होंने वादा किया कि अगर वह दोबारा चुनकर आते हैं तो 'कर्मा किचन' के लिए ढाई लाख डॉलर का अनुदान देंगे, जिसका इस्तेमाल इस संस्था के किचन को दुरुस्त करने में होगा।