एप्पल ने भारत में आईफोन बनाने वाले कारखाने को निगरानी में क्यों रखा?

एप्पल ने एक ईमेल में कहा कि हम हालात की बारीकी से निगरानी जारी रखेंगे। एप्पल ने सुरक्षा और आवास की स्थिति के बारे में विस्तृत मूल्यांकन के लिए स्वतंत्र निरीक्षकों को भेजा है।

एप्पल ने भारत में आईफोन बनाने वाले कारखाने को निगरानी में क्यों रखा?

दिग्गज प्रौद्योगिकी कंपनी एप्पल ने भारत के शहर तमिलनाडु में आईफोन बनाने वाली फॉक्सकॉन टेक्नोलॉजी ग्रुप की फैक्टरी को निगरानी पर रखा है। कंपनी ने यह फैसला कर्मचारियों के प्रदर्शन और जांच में सामने आई वहां की खराब स्थितियों को देखते हुए लिया है। एप्पल ने भरोसा दिया है कि कारखाने को दोबारा खोलने से पहले यह सुनिश्चित किया जाएगा कि सख्त मानकों का पालन हो।

ताइवान की यह कंपनी फॉक्सकॉन भारत में आईफोन और एप्पल के अन्य उत्पाद बनाती है। इसके कारखाने में फूड प्वाइजनिंग के चलते 250 श्रमिक बीमार पड़ गए थे। इसके बाद कर्मचारी हड़ताल पर चले गए थे। एप्पल की ओर से यह सख्त कदम उठाने के साथ फॉक्सकॉन ने भी स्वास्थ्य मानकों में कमी के लिए माफी मांगी है और कहा है कि हम इसमें सभी जरूरी सुधार करेंगे।