अमेरिकी ट्रस्ट के फंड का दुरुपयोग, भारत में दो आरोपियों का रिमांड बढ़ा

एसआईटी ने नबीपुर के मूल निवासी और ब्रिटेन के अब्दुल्ला फेफड़ावाला को तलब किया है जो एएफएमआई ट्रस्ट के सबसे बड़े हितैषी होने के साथ-साथ दोनों आरोपियों के कई संपर्कों की कड़ी के रूप में उभर रहे हैं।

अमेरिकी ट्रस्ट के फंड का दुरुपयोग, भारत में दो आरोपियों का रिमांड बढ़ा
Photo by Tingey Injury Law Firm / Unsplash

अमेरिका के चैरिटी ट्रस्ट अमेरिकन फेडरेशन ऑफ मुस्लिम ऑफ इंडियन ओरिजन (एईएमआई) के फंड का भारत में दुरुपयोग करने के आरोप में वडोदरा कोर्ट ने सलाहबुद्दीन शेख और मोहम्मद उमर गौतम नाम के दो आरोपियों को चार दिन ​की अतिरिक्त पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। गुजरात के वडोदरा शहर पुलिस की स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) इस मसले पर जांच कर रही है।

एसआईटी ने कहा कि कथित हवाला फंड में 60 करोड़ रुपये की गहन जांच की जा रही है जो दोनों आरोपियों को एएफएमआई से मिला है।

एसआईटी ने वडोदरा कोर्ट के सामने छह दिन की अवधि की पुलिस रिमांड खत्म होने के बाद और सात दिन की रिमांड की मांग की थी। एसआईटी ने कहा कि कथित हवाला फंड में 60 करोड़ रुपये की गहन जांच की जा रही है जो दोनों आरोपियों को एएफएमआई ट्रस्ट यानी अमेरिकन फेडरेशन आफ मुस्लिम आफ इंडियन ओरिजन से मिला है।