अमेरिका ने भारत को लौटाईं 250 प्राचीन वस्तुएं, मूल्य करीब 112 करोड़ रुपये

भारत के महावाणिज्यदूत रणधीर जायसवाल और अमेरिका के होमलैंड सिक्योरिटी इन्वेस्टिगेशन के डिप्टी स्पेशल एजेंट इंचार्ज एरिक रोजेनब्लेट की मौजूदगी में हुए एक समारोह में सभी वस्तुएं भारत ले जाने के लिए सौंप दी गईं।

अमेरिका ने भारत को लौटाईं 250 प्राचीन वस्तुएं, मूल्य करीब 112 करोड़ रुपये

अमेरिकी अधिकारियों ने भारत को चुराई गई कलाकृतियों योजना के तहत लंबे समय से चल रही जांच में 250 प्राचीन कलाकृतियों के अवशेष वापस किए हैं। वापस की गई वस्तुओं की कीमत लगभग 15 मिलियन डॉलर (करीब 112 करोड़ रुपये) बताई जा रही है। इन्हें न्यूयॉर्क सिटी में भारतीय वाणिज्य दूतावास में एक कार्यक्रम के दौरान भारतीय अधिकारियों को सौंपा गया।

अधिकारियों ने बताया कि28 अक्तूबर को वापस की गई वस्तुओं में सबसे महत्वपूर्ण कांस्य की शिव नटराज की एक मूर्ति है जिसकी कीमत लगभग चार मिलियन डॉलर है। यह जांच में उन हजारों पुरावशेषों को लेकर केंद्रित थी, जिनकी कथित रूप से भारतीय अमेरिकी डीलर सुभाष कपूर ने संयुक्त राज्य अमेरिका में तस्करी की थी। हालांकि कपूर ने इन आरोपों से इनकार किया है।