विशेष लेखः अमेरिका में पहली बार मिला था योग व संस्कृति शिक्षण का अवसर

यह एक संयोग ही था कि अमेरिका में अपने विशेष उद्बोधन के कारण प्रसिद्ध हुए स्वामी विवेकानंद की जयंती 12 जनवरी को ही थी, जिसे भारत में युवा दिवस या कैरियर्स डे के रूप में मनाया जा रहा था और मेरी अमेरिकी यात्रा के लिए भी यही दिवस तय हुआ।

विशेष लेखः अमेरिका में पहली बार मिला था योग व संस्कृति शिक्षण का अवसर

अमेरिका यात्रा - अंक 10

करीब साढ़े तीन साल पहले 10 जनवरी, 2018 की सुबह मैं अपने मित्रों के साथ भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद, नई दिल्ली पहुंच गया था। अमेरिका में पहली बार संस्कृति शिक्षण का अवसर मिलना मेरे लिए सौभाग्य का विषय था। अत: संकल्प तथा राष्ट्रधर्म का उदात्त भाव मेरे भाल को उन्नत कर रहा था। भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद विगत 70 वर्ष से विभिन्न देशों में भारतीय कला, संस्कृति, भाषा एवं संगीत का प्रचार-प्रसार कर रही है।

मुझे भारतीय समयानुसार 12 जनवरी की रात सवा बजे प्रस्थान कर अमेरिकी समयानुसार 12 जनवरी की सुबह 7 बजे वाशिंगटन डीसी स्थित डल्लास एयरपोर्ट पहुंचना था।