कश्मीर में हिंदू-सिखों की हत्या से अमेरिकी प्रवासियों में जबर्दस्त गुस्सा

प्रवासी कश्मीरियों से जुूड़े संगठन 17 अक्टूबर को फ्रीमोंट में इंडिया कम्युनिटी सेंटर में एक लाइव संगोष्ठी करेंगे और इसके बाद विरोध प्रदर्शन आयोजित किया जाएगा। अन्य संगठन इंडो-अमेरिकन कश्मीर फोरम का कहना है कि हालिया हत्याएं 1990 के दशक की याद दिलाती हैं।

कश्मीर में हिंदू-सिखों की हत्या से अमेरिकी प्रवासियों में जबर्दस्त गुस्सा

अमेरिका स्थित कई कश्मीरी समूह हाल के महीनों में कश्मीर घाटी में हिंदुओं और सिखों की लक्षित हत्याओं का विरोध करते हुए प्रदर्शन कर रहे हैं। घाटी में अज्ञात लोगों द्वार दिनदहाड़े कम से कम सात लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इनमें ज्यादातर हिंदू थे।

कश्मीर घाटी के प्रवासी समुदाय ने कहा कि घाटी में हालिया घटनाएं 1990 की याद दिलाती हैं।

अमेरिका में कई भारतीय और कश्मीरी संगठनों से जुड़े जीवन जुत्शी ने कहा कि हम फ्रेमोंट में 17 अक्टूबर को इंडिया कम्युनिटी सेंटर में एक लाइव संगोष्ठी आयोजित कर रहे हैं। संगोष्ठी के बाद हालिया हत्याओं के खिलाफ एक विरोध प्रदर्शन भी आयोजित किया जाएगा।