अमेरिका में भारतीय मूल के लोगों पर बढ़ रहे हमले: रिपोर्ट

अटॉर्नी जनरल मेरिक गारलैंड ने कहा कि हेट क्राइम यानी नफरत से प्रेरित अपराधों और घटनाओं को रोकना और उनका जवाब देना न्याय विभाग की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से एक है। एफबीआई हेट क्राइम स्टैटिस्टिक्स 2020 प्रदर्शित करती है कि हमें व्यापक प्रतिक्रिया देने की तत्काल आवश्यकता है।

अमेरिका में भारतीय मूल के लोगों पर बढ़ रहे हमले: रिपोर्ट
Photo by Jason Leung / Unsplash

अमेरिका में भारतीय मूल के सिख और हिंदूओं पर पूर्वाग्रह से प्रेरित अपराधों में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। एफबीआई की यूनिफार्म क्राइम रिपोर्ट्स (यूसीआर) के साल 2020 के आंकड़ों से पता चलता है कि 71 सिख अमेरिकियों पर साल 2020 में नफरत से प्रेरित हमले हुए। अमेरिका के जस्टिस ​डिपार्टमेंट यानी न्याय विभाग द्वारा 30 अगस्त को जारी रिपोर्ट के अनुसार 47 अपराधियों ने 67 हमलों में सिख समुदाय को निशाना बनाया जबकि साल 2019 में य​ह आंकड़ा कम था। 2019 में 50 सिख अमेरिकियों पर हमले किए गए थे।

Held at gunpoint
हमलों में भारतीय मूल के हिंदुओं व सिखों के अलावा बौद्ध व मुस्लिम समुदाय को भी निशाना बनाया गया है। Photo by Maxim Hopman / Unsplash

ऐसे ही हिंदू समुदाय पर हमले एक साल में 500 फीसदी बढ़े हैं। आंकड़ों के मुताबिक अमेरिका में साल 2019 में जहां 2 बार हिंदू समुदाय पर हमले की खबर सामने आई, वहीं साल 2020 में 11 सूचनाएं मिली हैं। छह अलग-अलग अपराधियों ने 11 हिंदू अमेरिकियों पर हमला किया है। साल 2020 में एफबीआई ने बौद्ध समुदाय पर भी नफरत से प्रेरित 15 मामले दर्ज किए हैं। भारतीय मुसलमानों पर हमलों की सूचनाएं हैं।