अमेरिका में भारतीय दोषी करार, कॉल सेंटरों का उपयोग कर जबरन वसूली का मामला

मकनोजिया को 20 साल तक की जेल और 250,000 डॉलर तक का अधिकतम जुर्माना हो सकता है। उसकी सजा की तारीख 13 दिसंबर तय की गई है।

अमेरिका में भारतीय दोषी करार, कॉल सेंटरों का उपयोग कर जबरन वसूली का मामला

भारतीय मूल के 37 वर्षीय एक व्यक्ति पर ह्यूस्टन में धोखाधड़ी का आरोप तय हुआ है। वसीम मकनोजिया ने अमेरिका में अप्रैल 2019 से अक्टूबर 2019 के बीच भारतीय कॉल सेंटरों के माध्यम से एक टेलीमार्केटिंग योजना चलाई और आम लोगों के साथ धोखाधड़ी की।

मकनोजिया अभी तक नकदी से भरे 70 से अधिक पार्सल ले चुका था।

जिस योजना के साथ मकनोजिया जुड़ा हुआ था उसका मकसद आम लोगों को यह विश्वास दिलाना था कि जांच एजेंसियां उनके पीछे हैं और अगर वह जांच से अपना नाम हटाना चाहते हैं तो उसका एकमात्र तरीका है कि वह फेडेक्स के माध्यम से भेजे गए पार्सल में दिए गए नाम और पते पर नकद राशि भिजवा दें।