एयर एशिया इंडिया को आखिर मिल ही गई अंतरराष्ट्रीय उड़ान की अनुमति

एयरएशिया को अंतरराष्ट्रीय उड़ान की अनुमति पहले ही मिल जाती लेकिन एयरलाइन के प्रभावी नियंत्रण से संबंधित गड़बड़ियों के कई मामले सामने आने के चलते भारत सरकार इसे यह मंजूरी देने से रुक गई थी।

एयर एशिया इंडिया को आखिर मिल ही गई अंतरराष्ट्रीय उड़ान की अनुमति
Photo by Suu Amr / Unsplash

टाटा समूह की एयरएशिया इंडिया को आखिरकार अपनी पहली अंतरराष्ट्रीय उड़ान के लिए अनुमति मिल गई है। कंपनी को यह अनुमति अपना काम शुरू करने के लगभग आठ साल बाद मिली है। एयर एशिया इंडिया में टाटा समूह की भागीदारी 83.6 फीसदी है। यह गैर निर्धारित कार्गो उड़ान का कोच्चि-दुबई-कोच्चि हवाई मार्ग पर संचालन करेगी।

एयरएशिया इंडिया की पहली उड़ान का संचालन जून 2014 में हुआ था। दिसंबर 2018 में इसके बेड़े में मौजूद विमानों की संख्या 20 हो गई थी। इसे अंतरराष्ट्रीय उड़ान की अनुमति पहले ही मिल जाती लेकिन एयरलाइन के प्रभावी नियंत्रण से संबंधित गड़बड़ियों के कई मामले सामने आने के चलते भारत सरकार इसे यह मंजूरी देने से रुक गई थी।