राहत: दो महीने बाद रूसी एयरलाइंस की आज से मॉस्को-नई दिल्ली के बीच शुरू हो रही है उड़ानें

रूसी एयरलाइंस ने एक बयान जारी करते हुए बताया कि 6 मई 2022 से एअरोफ्लोट दिल्ली से मॉस्को के लिए हर सोमवार और शुक्रवार जबकि मॉस्को से दिल्ली के लिए हर गुरुवार और रविवार को अपने एयरबस 333 विमान को उड़ाएगा।

राहत: दो महीने बाद रूसी एयरलाइंस की आज से मॉस्को-नई दिल्ली के बीच शुरू हो रही है उड़ानें
Photo by Robert Aardenburg / Unsplash

रूसी सरकार द्वारा संचालित रूसी एयरलाइंस एअरोफ्लोट शुक्रवार यानी आज से रूस और भारत के बीच उड़ानें फिर से शुरू करने जा रहा है। दरअसल एअरोफ्लोट ने 8 मार्च को अपने निर्धारित अंतरराष्ट्रीय उड़ान संचालन को निलंबित कर दिया था। दरअसल अमेरिका, ब्रिटेन और यूरोप जैसे पश्चिमी देशों में बने एयरक्राफ्ट लैजर से इन पश्चिमी देशों ने अपने विमानों को वापस बुला लिया था जिसके चलते एअरोफ्लोट को भी अपना संचालन रोकना पड़ा।

रूसी एयरलाइंस ने एक बयान जारी करते हुए बताया कि 6 मई 2022 से एअरोफ्लोट दिल्ली से मॉस्को के लिए हर सोमवार और शुक्रवार जबकि मॉस्को से दिल्ली के लिए हर गुरुवार और रविवार को अपने एयरबस 333 विमान को उड़ाएगा। इस विमान में बिजनेस, प्रीमि​यम इकोनॉमी और इकोनॉमी क्लास हैं जबकि 293 यात्री ​बैठ सकते हैं। बता दें कि दो महीने के ठहराव के बाद एअरोफ्लोट ने भारत सहित कुछ क्षेत्रों में अंतरराष्ट्रीय उड़ानें फिर से शुरू कर दी हैं।

मालूम हो कि 8 मार्च से एअरोफ्लोट ने यूरोप और अमेरिकी देशों द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों के कारण बेलारूस में मिन्स्क को छोड़कर अपने सभी अंतरराष्ट्रीय कनेक्शन रद्द कर दिए थे। पश्चिमी देशों ने हवाई क्षेत्र के उपयोग पर प्रतिबंध लगाने के साथ—साथ आर्थिक तौर पर भी प्रतिबंध लगाए थे। आर्थिक प्रतिबंधों का एक पहलू यह था कि यूरोपीय विमान पट्टे पर देने वाली कंपनियों ने रूसी एयरलाइनों के साथ अनुबंध समाप्त करना शुरू कर दिया था।

द आयरिश टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार 700 विमान रूसी एयरलाइनों को पट्टे पर दिए गए हैं जिनमें से 200 से अधिक आयरिश कंपनियों द्वारा पट्टे पर दिए गए हैं। फ्लाइट ट्रैकिंग पोर्टल Flightradar24 से मिली जानकारी के मुताबिक पिछले महीने एअरोफ्लोट समूह की एयरलाइन रोसिया ने सोची से इस्तांबुल के लिए उड़ानें शुरू की थीं। इसके अलावा आज से एअरोफ्लोट मास्को और इस्तांबुल के बीच भी उड़ानें फिर से शुरू करने की योजना बना रहा है। इसी तरह एअरोफ्लोट अप्रैल से मास्को और कोलंबो के बीच भी उड़ानें संचालित कर रहा है।