अफगानी बॉक्सर के पास भारतीय पासपोर्ट व आधार कार्ड भी, कैसे खुली पोल

अभिनेता और एमएमए टॉक शो के विशेषज्ञ परवीन डबास ने ने दावा किया है कि अफगानिस्तान के अब्दुल बदाक्षी के पास दो पासपोर्ट हैं। इनमें एक अफगान का है और दूसरा भारतीय। यहां तक ​​​​कि बदाक्षी के पास आधार कार्ड भी है।

अफगानी बॉक्सर के पास भारतीय पासपोर्ट व आधार कार्ड भी, कैसे खुली पोल

एमएमए (Mixed Martial Arts) के अफगानिस्तान के स्टार अब्दुल बदाक्षी अब्दुल अजीम बदाक्षी ने 24 जून को नई दिल्ली में मैट्रिक्स फाइट नाइट 9 में भारतीय एमएमए फाइटर श्रीकांत शेखर पर कथित रूप से हमला किया। रिंग के बाहर बदाक्षी ने श्रीकांत को इतनी बुरी तरह से मारा ​कि श्रीकांत को अस्पताल में भर्ती कराया गया। खबर है कि श्रीकांत का जबड़ा भी टूट गया। इस मामले में अब अभिनेता और एमएमए टॉक शो के विशेषज्ञ परवीन डबास ने बदाक्षी पर एक के बाद एक संगीन आरोप लगाए हैं।

डबास ने दावा किया है कि अफगानिस्तान के अब्दुल बदाक्षी के पास दो पासपोर्ट हैं। इनमें एक अफगान का है और दूसरा भारतीय। यहां तक ​​​​कि बदाक्षी के पास आधार कार्ड भी है। डबास ने दावा किया कि श्रीकांत के खिलाफ हमले की जानकारी सामने आने के बाद अब्दुल बदाक्षी भारत से भागने की कोशिश कर रहा था। परवीन डबास ने अब्दुल बदाक्षी के कथित भारतीय पासपोर्ट और आधार कार्ड की तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर साझा की हैं जिसमें बदाक्षी का नाम अजीम सेठी है।

परवीन डबास ने ट्वीट किया कि अफगान एमएमए फाइटर अब्दुल अजीम बदाक्षी के पास दो पासपोर्ट हैं..अफगानी और भारतीय और एक आधार कार्ड (भगवान जाने कैसे)। वह आज रात भागने का प्रयास कर रहा है। यह सुनिश्चित नहीं है कि @DelhiPolice द्वारा अभी तक प्राथमिकी दर्ज की गई है। बताया जा रहा है कि यह जमानती के तहत किया जा रहा है।

डबास ने दावा किया कि श्रीकांत ने क्रूर हमले के बाद अब्दुल बदाक्षी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी। प्रो बॉक्सर नीरज गोयत ने भी पुलिस अधिकारियों से अब्दुल बदाक्षी को गिरफ्तार करने का आग्रह किया था और श्रीकांत की मेडिकल रिपोर्ट के स्क्रीनग्रैब भी दिखाए थे जिसमें श्रीकांत के टूटे जबड़े के संकेत हैं।

बता दें कि मैट्रिक्स फाइट नाइट प्रमोशन ने भारतीय एमएमए बिरादरी में हलचल पैदा करने वाले हमले के बाद अफगानिस्तान के लड़ाकों पर प्रतिबंध लगा दिया। अब्दुल अजीम बदाक्षी एमएफएन के सबसे बड़े सितारों में से एक है। बदाक्षी का रिकॉर्ड 13-4 है।