अबू धाबी के क्राउन प्रिंस ने भारतीय प्रवासी पर किया भरोसा, दे दी इतनी बड़ी जिम्मेदारी

अली के यूएई के शाही परिवार, केरल राज्य सरकार और केंद्र की भाजपा सरकार से साथ करीबी रिश्ते हैं। वह केरल बाढ़ सहायता के लिए खलीफा बिन जायेद अल नहयान फाउंडेशन को 50 लाख दिरहम की राशि दान में दे चुके हैं।

अबू धाबी के क्राउन प्रिंस ने भारतीय प्रवासी पर किया भरोसा, दे दी इतनी बड़ी जिम्मेदारी
(Photo: https://yusuffali.com/)

अबू धाबी के क्राउन प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान ने भारतीय मूल के यूसुफ अली एमए को संयुक्त अरब अमीरात की सर्वोच्च सरकारी एजेंसी के उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी है। यूसुफ अली एमए इस एजेंसी के 29 बोर्ड के सदस्यों में एकमात्र भारतीय हैं।

65 साल के यूसुफ अली लूलू ग्रुप के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक हैं। यह कंपनी दुनिया के कई देशों में सुपरमार्केट और रिटेलर कंपनियों का संचालन करती है। (Photo: https://yusuffali.com/)

दरअसल, शेख मोहम्मद ने अबू धाबी की चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री यानी एडीसीसीआई के निदेशक मंडल की स्थापना के लिए एक प्रस्ताव जारी किया था, जिसमें अब्दुल्ला मोहम्मद अल मजरूई और यूसुफ अली को उपाध्यक्ष के रूप में जिम्मदेारी संभालने के​ लिए कहा।

एडीसीसीआई अबू धाबी में स्थापित सभी व्यवसायों के लिए सर्वोच्च सरकारी एजेंसी है, जो राजधानी में चल रही सभी कंपनियों पर नजर रखती है। यह सरकार और वाणिज्यिक क्षेत्र के बीच एक सेतु का काम करती है। अबू धाबी इस क्षेत्र के सबसे अमीर और सबसे प्रभावशाली आर्थिक केंद्रों में से एक है। यहां कानून है कि हर किसी व्यावसायिक संगठन के पास एडीसीसीआई द्वारा जारी किया गया लाइसेंस होना चाहिए।

यूसुफ अली भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मिलते रहे हैं। (Photo: https://yusuffali.com/)

65 साल के यूसुफ अली लूलू ग्रुप के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक हैं। यह कंपनी दुनिया के कई देशों में सुपरमार्केट और रिटेलर कंपनियों का संचालन करती है। यूसुफ अली ने अपनी नियुक्ति को लेकर कहा कि "यह मेरे जीवन का बहुत ही गर्व करने वाला पल है। मैं इस महान देश के दूरदर्शी नेताओं को तहे दिल से धन्यवाद देता हूं। मुझे जो बड़ी जिम्मेदारी सौंपी गई है, उसे साबित करने की पूरी कोशिश करूंगा। अबू धाबी अर्थव्यवस्था और बड़े व्यापारिक समुदाय के लिए कड़ी मेहनत करने के अलावा, मैं भारत और संयुक्त अरब अमीरात के बीच व्यापार संबंधों को और बढ़ावा देने के लिए ईमानदारी से प्रतिबद्ध हूं।"

आपको बता दें कि शेख मोहम्मद ने हाल ही में यूसुफ अली को '2021 अबू धाबी पुरस्कार' से सम्मानित किया था, जो उनको उनके 5 सालों से आर्थिक विकास और चैरिटी के लिए दिया जाने वाला सर्वोच्च नागरिक सम्मान है।