आप मालदार हैं, क्यों नहीं लेते गोल्डन वीजा, लीजिए और शानदार जीवन बिताइए

आयरलैंड में रेजीडेंसी निवेश कार्यक्रम इसके लिए सबसे बढ़िया विकल्प है। आयरलैंड यूरोपीय संघ का हिस्सा है, जहां अंग्रेजी बोली जाती है और तमाम विश्व स्तरीय विश्वविद्यालय हैं।

आप मालदार हैं, क्यों नहीं लेते गोल्डन वीजा, लीजिए और शानदार जीवन बिताइए
Photo by Christian Lue / Unsplash

अमीर भारतीयों का सपना होता है कि वे यूरोपीय देशों का गोल्डन वीजा हासिल कर सकें। इन देशों की सर्वोत्तम शिक्षा प्रणाली, अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित कक्षाएं, अपेक्षाकृत कम लागत पर शीर्ष विश्वविद्यालय, परेशानी मुक्त अंतर्राष्ट्रीय यात्रा, सेवानिवृत्ति के बाद एक सुखी जीवन, सामाजिक-आर्थिक सुरक्षा की एक अच्छी व्यवस्था और विश्व स्तरीय चिकित्सा सुविधाएं, प्रदूषण रहित स्वच्छ जलवायु जैसी सुविधाएं हर किसी को आकर्षित करती हैं। जो लोग इन देशों का गोल्डन वीजा हासिल कर लेते हैं, वे इन सभी सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं।

वैसे यूरोपीय संघ (EU) की नागरिकता या स्थायी निवास लेना आसान नहीं होता, लेकिन मोटी रकम चुकाने या संपत्ति में निवेश करने से यह सपना पूरा हो सकता है। पिछले कुछ सालों में अंतरराष्ट्रीय यात्रा काफी कठिन और ज्यादा समय लेने वाली हो गई है। खासकर जब आप बार-बार वीजा के लिए आवेदन करने के बाद यात्रा की अनुमित मिलती है।