ब्रिटेन में किशोर रोनन की चाकू मारकर हत्या, दो नाबालिग समेत 3 गिरफ्तार

वेस्ट मिडलैंड्स पुलिस का कहा है कि जांच जारी है। सीसीटीवी और फोरेंसिक सबूतों की पड़ताल की जा रही है। पुलिस ने रोनन के परिवार की ओर से जो बयान जारी किया है उसके मुताबिक रोनन 16 साल का था और स्वभाव से अच्छा था। वह दूसरे के लिए फिक्रमंद भी रहता था।

ब्रिटेन में किशोर रोनन की चाकू मारकर हत्या, दो नाबालिग समेत 3 गिरफ्तार

ब्रिटेन में भारतीय मूल के किशोर की हत्या के आरोप में पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरप्तार किया है। इनमें दो नाबालिग हैं। वेस्ट मिडलैंड्स के वॉल्वरहैम्पटन की है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से पता चला है किशोर को दो बार चाकू मारा गया। उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी। वेस्ट मिडलैंड्स पुलिस ने 16 वर्षीय रोनन कांडा की हत्या की तफ्तीश शुरू कर दी है।

रोनन मात्र 16 साल का था। 

जानकारी के अनुसार वारदात बीते बुधवार को हुई। बर्मिंघम के जोसिया फ्रैंसिस (20) और दो नाबालिगों को हत्या के आरोप में वोल्वरहैम्पटन मैजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया। नाबालिग होने के कारण अन्य आरोपियों की पहचान उजागर नहीं की गई है।

पुलिस ने रोनन के परिवार की ओर से जो बयान जारी किया है उसके मुताबिक रोनन 16 साल का था और स्वभाव से अच्छा था। वह दूसरे के लिए फिक्रमंद भी रहता था। उसका लहजा मजाकिया था और वह अपने आस-पास के लोगों से हंसी करता रहता था। उसे बहुत क्रूरता के साथ हमसे छीन लिया गया है। हमारे दिल दुखी है। हम चाहते हैं कि हरेक दोषी को इस अपराध की सजा मिले। हमारा बेटा और भाई हमेशा हमारे साथ रहेगा।

वेस्ट मिडलैंड्स पुलिस का कहा है कि जांच जारी है। सीसीटीवी और फोरेंसिक सबूतों की पड़ताल की जा रही है। पुलिस ने लैंसफील्ड, वॉल्वरहैम्पटन में माउंट रोड पर हुए हमले के हवाले से बताया कि अगर घटना के वक्त कोई व्यक्ति उधर से जा रहा हो या जिसने डैशकैम से वारदात की फुटेज बनाई हो तो उससे जानकारी पाने के लिए जासूस उत्सुक हैं। जानकारी के अनुसार इस घटना के सिलसिले में पिछले सप्ताह एक 15 साल के लड़के और 18 वर्षीय व्यक्ति को भी गिरफ्तार किया गया था, लेकिन उन्हे बाद में बेल पर छोड़ दिया गया।