भारतीय बच्चों को लेकर ब्रिटिश मेडिकल जर्नल का ये दावा चौंकाने वाला है

विटामिन ए आंखों की रोशनी, वृद्धि और विकास के साथ ही घाव के भरने, प्रजनन और प्रतिरक्षा के लिए बेहद अनिवार्य है। सर्वे में 9 महीने से लेकर 5 साल तक के 204,645 बच्चों को शामिल किया गया था।

भारतीय बच्चों को लेकर ब्रिटिश मेडिकल जर्नल का ये दावा चौंकाने वाला है

ब्रिटिश मेडिकल जर्नल (BMJ) ग्लोबल हेल्थ ने अपने एक अध्ययन में दावा किया है कि भारत में 5 में से 2 बच्चे विटामिन ए से वंचित हैं। विटामिन ए मानव शरीर में कई कोशिकीय प्रक्रियाओं के लिए महत्वपूर्ण है। विटामिन ए आंखों की रोशनी, वृद्धि और विकास के साथ ही घाव के भरने, प्रजनन और प्रतिरक्षा के लिए बेहद अनिवार्य है।

अध्ययन में दावे के लिए जिन आंकड़ों का सहारा लिया गया है उनके अनुसार सर्वे में शामिल 60.5 बच्चों को ही विटामिन ए पूरक मिल पाए। सर्वे में 9 महीने से लेकर 5 साल तक के 204,645 बच्चों को शामिल किया गया था।