भारतीय मूल की दो फिल्म निर्माताओं का ऑस्टिन महोत्सव में दिखेगा जलवा

न्यूयॉर्क की रहने वाली शालिनी की फिल्म मानवाधिकार, पानी, भोजन और ऊर्जा के मुद्दों को उभारती है। इस फिल्म को पीबीएस इम्मी अवॉर्ड विनिंग सीरीज में राष्ट्रीय स्तर पर दिखाया जा चुका है।

भारतीय मूल की दो फिल्म निर्माताओं का ऑस्टिन महोत्सव में दिखेगा जलवा

अमेरिका के टेक्सास प्रांत के शहरऑस्टिन में अगले महीने होने वाले फिल्म महोत्सव में भारतीय मूल के दो अमेरिकन फिल्म निर्माताओं की फिल्म दिखाई जाएगी। इनमें से एक फिल्म निर्माता हैं शालिनी कांत्या। उनकी डॉक्युमेंटरी फीचर फिल्म ‘टिक टॉक बूम’ प्रदर्शित की जाएगी। वहीं, दूसरी फिल्म निर्माता मौरीन भरूचा की हास्य फिल्म ‘द प्रांक’ मौजूद दर्शकों को गुदगुदाएगी।

‘टिक टॉक बूम’ सांस्कृतिक घटनाओं पर आधारित फिल्म है। इसमें तकनीकी रूप से दक्ष नई पीढ़ी के युवा, पत्रकार और विशेषज्ञ को समाहित किया गया है। इस फिल्म में इस बात का परीक्षण किया गया है कि कैसे अपरिपक्व सोशल मीडिया ऐप जो वायरल डांस के लिए प्रसिद्ध है, इसने कैसे कई विवादों, साजिशों के लिए उत्प्रेरक का काम किया। कैसे इसमें अमेरिका, चीन के बीच एक शीत युद्ध को जन्म दिया।